कक्षा 9वीं से 12वीं के वार्षिक परीक्षाओं के प्रश्न पत्र घर पर हल किये जाएंगे

कक्षा 9वीं एवं 11वीं के वार्षिक परीक्षाओं तथा कक्षा 10वीं एवं 12वीं प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिये शासकीय विद्यालयों के

Read more

एक महान शिक्षिका ‌: सावित्रीबाई फुले भारत की प्रथम महिला शिक्षिका

सावित्रीबाई फुले भारत की प्रथम महिला शिक्षिका, समाज सुधारिका एवं मराठी कवियत्री थीं। उन्होंने  स्त्री अधिकारों एवं शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय

Read more

स्कूल लौट चलें हम

CWS NEWS – सत्यप्रकाश नायक। कोविड 19 के दुस्प्रभाव के चलते हमारी शिक्षाप्रणाली पर बहुत बुरा असर हुआ है|  सरकार  एवंस्वयं सेवी संस्थाओं के तमाम प्रयासों के बाबजूदभी बड़े निजी स्कूल (प्राइवेट) एवं सरकारी विद्यालयोंमें पढने वाले बच्चों  के बीच शैक्षणिक गुणवत्ता कीएक गहरी खाई जो लम्बे अरसे से बनी हुई थी वह इसमहामारी के चलते और बढती चली गई | सरकारीस्कूलों और छोटे प्राइवेट स्कूलों  में पढने वाले बच्चोंकी शिक्षा पर जो नकारात्मक असर हुआ है उसे पाटपाने में शायद लम्बा समय लगे | भारत में  जबकोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन लगा तोनागरिकों की तमाम चुनौतियों के साथ साथअकादमिक सत्र भी बुरी तरह प्रभावित हुआ  |इस वर्षविद्यालय नही खुले और हजारों विद्यार्थी भी अपनेमाता पिता के साथ बड़े शहरों से वापिस अपने गाँवलौट आये |यूनिसेफ की हालियाँ  आई एक रिपोर्टकहती है  भारत के मात्र 24 प्रतिशत घरों में हीऑनलाइन शिक्षण हेतु इन्टरनेट की व्यवस्था है |यूनिसेफ की  लर्निंग रीचेबिलिटी रिपोर्ट’ में जो तथ्यनिकल कर  आये हैं वह भारत में शिक्षा व्ययवस्था मेंहो रहे बड़े गेप को दर्शाती है |रिपोर्ट कहती है की जहाँकेवल 24 प्रतिशत परिवारों तक इन्टरनेट सेवा पहुचरही है उसमें उच्च वर्गीय ,माध्यम वर्गीय और निम्नवर्गीय आय के परिवारों के बीच  बड़ा अंतर है साथ हीसाथ यह लैंगिक विभाजन भी करता है | निम्न आयके परिवारों के पास या तो स्मार्ट फोन नही है औरयदि हैं तो उनमें इन्टरनेट कनेक्टिविटी की समस्या भीहै दूसरी ओर लड़कियों के पास स्मार्ट फोन लड़कों कीअपेक्षाकृत कम हैं जो जेंडर गैप पैदा करता है |ग्रामीण अंचलों में जहाँ निम्न आय वर्ग में परिवारज्यादा हैं उन्हें स्मार्ट फोन ,इन्टरनेट कनेक्टिविटी केसाथ साथ शिक्षण सामग्री का उनकी भाषा मेंउपलब्ध न होना भी एक चुनौती बनी हुई है |रिपोर्ट में कहा गया है ‘‘भारत में 15 लाख

Read more