अमित शाह के बारे में कुछ आश्चर्यजनक तथ्य

  1. अमित शाह 1964 में बॉम्बे के एक अमीर व्यापारी अनिलचंद शाह के घर पैदा हुए। हालाँकि उनकी कभी कोई राजनीतिक पृष्ठभूमि नहीं थी और बायोकेमिस्ट्री की डिग्री थी, लेकिन वे सबसे सफल राजनीतिज्ञ थे।
  2. अपने स्कूल के दिनों में अमित शाह एबीवीपी के सक्रिय सदस्य थे। वह बचपन से ही आरएसएस से जुड़े थे। अपने स्नातक के दिनों के दौरान वे स्वयंसेवक के रूप में आरएसएस से जुड़े।
  3. 1986 में अमित शाह बीजेपी में शामिल हो गए। बीजेपी में शामिल होने से पहले वे स्टॉक ब्रोकर थे।
  4. 1995 में अमित शाह को केशूबाई पटेल सरकार में गुजरात वित्त निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया गया।
  5. अमित शाह ने पहली बार मोदी से 1982 में अहमदाबाद आरएसएस सेले में मुलाकात की, जब मोदी अहमदाबाद शहर में युवा गतिविधियों के प्रभारी थे।
  6. शाह ने 1991 और 1996 में लाल कृष्ण आडवाणी और अटल बिहारी वाजपेयी के चुनाव अभियानों का प्रबंधन किया, जिसने उन्हें राजनीतिक रणनीति में अंतर्दृष्टि प्रदान की, जिससे उन्हें एक उत्कृष्ट चुनाव प्रबंधक और एक राजनीतिक रणनीतिकार के रूप में विकसित किया गया।
  7. शाह 1997, 1998, 2002 और 2007 में साखेज से विधायक चुने गए थे।
  8. 2002 की जीत के बाद मोदी ने शाह को गृह, कानून और न्याय, संसदीय मामलों जैसे कई विभाग दिए,
  9. 2010 में उन पर दो फर्जी एनकाउंटर मामलों को दबाने का आरोप लगाया गया था, और उन्हें मंत्रालय से इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया था। उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और उन्हें बरी कर दिया गया और बाद में रिहा कर दिया गया जब उन्हें उनके खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिला।
  10. अमित शाह को 2010 से 2012 तक गुजरात से निर्वासित किया गया था, इस दौरान उन्होंने दिल्ली में विभिन्न क्षेत्रों के दिग्गजों के साथ खुद को निखारा। वह 2014 के लोकसभा चुनावों में भारी मजरों के साथ यूपी जीतने के लिए जोरदार वापसी की। चुनाव से पहले उन्हें यूपी बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया था।
  11. पार्टी ने उन्हें जुलाई 2014 में राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया। तब से पार्टी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अमित शाह ने लगातार जीत दर्ज की जिसमें हरियाणा, यूपी, असम, महाराष्ट्र, मणिपुर, त्रिपुरा, जम्मू और कश्मीर शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *