आखिर ग्रामीणों ने क्यो लगाया विधायक और सांसद मुर्दाबाद के नारे देखें ये खास रिपोर्ट

ग्रामीणों ने कांग्रेस के विधायक और भाजपा के सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते के मुर्दाबाद के लगाए नारे……

विधुत विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही से शिवराज सरकार के दावे हो रहे फेल……….

ग्रामीणों ने विधायक के साथ साथ सांसद फग्गन कुलस्ते पर भी साधा निशाना लगाए मुर्दाबाद के नारे……….

20 दिनों से इस गांव में है ब्लैक ऑउट, ट्रांसफार्मर नहीं होने से अंधेरे में जीवन काट रहे ग्रामीण……….

सिवनी:- प्रदेश में भले शिवराज की सरकार है पर जिनके दावे पर दावे सुनने को मिलता है परंतु सच्चाई और लापरवाही एमपी के सिवनी में देखने को मिल रही है हालांकि प्रदेश सरकार का दावा है की गांवों में 24 घंटे बिजली देने का वादा और दावा पूरा करने की कोशिश में है, मगर नीचे बैठे लापरवाही सिस्टम के कारण जर्जर तार, लो वोल्टेज और पुराने संसाधनों के कारण ग्रामीणों से बिजली की आंख मिचौली खत्म ही नहीं हो रही. आदिवासी ब्लॉक घंसौर अंतर्गत भेड़ा गांव का भी यही हाल है. गांव में ट्रांसफर खराब होने के कारण पिछले 20 दिनों से टोटल ब्लैक आउट है. समस्या से जूझ रहे ग्रामीणों के भारी विरोध के बाद भी प्रशासनिक अधिकारी कोई सुध नहीं ले रहे है जिससे ग्रामीणों ने क्षेत्रीय सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते से उम्मीद के साथ-साथ वर्तमान कांग्रेस के विधायक योगेंद्र सिंह बाबा के साथ भाजपा के क्षेत्रीय सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते के मुर्दाबाद के नारे के साथ साथ लाइट ना मिलने पर वोट ना देने की भी नारेबाजी हुई हालांकि देखा जाए तो मध्यप्रदेश पर बैठे अफसरों के कारण शिवराज सरकार के दावे फेल होते जा रहे हैं।

इस गांव में करीब दो सौ से अधिक परिवार रहते हैं. बिजली की समस्या से पूरा का पूरा गांव ही परेशान है. बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई रुक गई है. आम जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. इतना ही नहीं कैरोसिन नहीं मिलने से खाने के तेल से चिराग जलाकर लोग अपने घरों का अंधेरा दूर कर रहे हैं.ग्रामीणों ने बताया कि बिजली विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ वे स्थानीय सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते और विधायक योगेंद्र सिंह को भी इस समस्या से अवगत करा चुके हैं. लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकल पाया है. आज परेशान होकर ग्रामीणों का सब्र का बांध टूट गया और गांव में जमकर हंगामा किया और सांसद,विधायक मुर्दाबाद के नारे लगाए. वहीं जब अधिकारियों से इस लापरवाही पर सवाल पूछे गए तो उन्होंने रटा-रटाया जवाब सुना दिया कि जल्द इस समस्या का समाधान कर दिया जाएगा. अब देखना होगा की इन ग्रामीणों की समस्या कब तक दूर होगी और कब इन परिवारों के घरों में रोशनी आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *